इन्श्योरेंस क्या है? | पूरी जानकारी

इन्श्योरेंस क्या है

हम ने लोगों के मुंह से कई सारी बातें सुनी है घर का मकान ले लो फ्लैट ले लो खाली जमीन ले लो सोना ले लो इन्वेस्टमेंट करने के लिए। इसमें कोई शक नही की आज भी लोग ये सारी बातें बोलते हैं लेकिन पहले से अब मैं एक जो बात है ना वह काफी ज्यादा बोली जाती है कि आप कुछ करो ना करो आप इंश्योरेंस तो पक्के से ले लो।


अब ये इन्श्योरेंस क्या है इसके बारे में आज हम जानेंगे ।


नमस्कार दोस्तों 99topnews.com पर आप सभी का स्वागत है । इंश्योरेंस का मतलब होता है, आने वाले खतरे से सुरक्षा करना यानी अपनी लाइफ और प्रॉपर्टी से जुड़े रिस्क को कवर करने का एक ऑप्शन इंश्योरेंस होता है। लेकिन इंश्योरेंस क्यों करवाना चाहिए? इंश्योरेंस किस तरीके से काम करता है? और इन्श्योरेंस कितने प्रकार का होता है? यह सब जानना भी तो बहुत जरुरी है। ताकि आप अपनी जरूरतों के हिसाब से सही इंश्योरेंस को चुन सकें । तो आज के इस ब्लॉग में हम ले कर आये है इन्श्योरेंस से जुड़ी जितनी भी जरूरी जानकारी है वो। तो बने रहिये हमारे साथ।

इन्श्योरेंस क्या है?

तो चलिए शुरू करते हैं सबसे पहले इंश्योरेंस का मतलब जानते हैं। इंश्योरेंस एक लीगल एग्रीमेंट है, जो दो पार्टीज के बीच होता है- इंश्योरेंस कंपनी और इंश्योरेंस करवाने वाला व्यक्ति और इस एग्रीमेंट के अनुसार जब कोई व्यक्ति किसी इन्श्योरेंस कंपनी से अपना इंश्योरेंस यानी की बीमा करवाता है तो फ्यूचर में उस व्यक्ति को होने वाले आर्थिक नुकसान की भरपाई इन्श्योरेंस कंपनी करती है। तो इंश्योरेंस क्या है?

यह जानने के बाद अब जानते हैं कि इंश्योरेंस काम कैसे करता है? इन्श्योरेंस एग्रीमेंट के अनुसार इन्श्योरेंस कंपनी के द्वारा बीमित व्यक्ति से एक फिक्स अमाउंट लिया जाता है, जिसे प्रीमियम कहते हैं। प्रीमियम लेने के बाद अगर उस बीमित व्यक्ति को किसी भी तरह का नुकसान पहुंचता है तो इंश्योरेंस पॉलिसी की टर्म एंड कंडीशन के हिसाब से उसके नुकसान की भरपाई इंश्योरेंस कंपनी द्वारा की जाती है।

इसी तरह जैसे- किसी प्रॉपर्टी जैसे कि घर, कार का इंश्योरेंस करवाया गया हो, तो उस चीज के टूटने या नुकसान होने के स्थिति में उस प्रॉपर्टी के मालिक को पहले से निश्चित की गई कंडीशन के आधार पर मुआवजा दिया जाता है। तो अब यह जानना भी जरूरी है कि इंश्योरेंस कितने प्रकार का होता है? इंश्योरेंस मुख्य रूप से दो तरह का होता है।

1] लाइफ इंश्योरेंस

2] जनरल इंश्योरेंस

Best Insurance Plans of LIC in 2021 | Most Popular LIC Plans | LIC ke Best Plans

लेकिन आज के समय मे इन्श्योरेंस के की प्रकार हो गए है। जैसे यात्रा बीमा(travel insurance), स्वास्थ्य बीमा (health insurance), फसल बीमा (crop insurance) तो चलिए हम उन सभी प्रकार के इन्श्योरेंस के बारे में जानते है

(1) लाइफ इन्श्योरेंस-
इसके नाम से आपको पता चलता है कि इंश्योरेंस का यह टाइप बीमित व्यक्ति की लाइफ का इंश्योरेंस करता है यानी जो व्यक्ति अपना बीमा करवाता है उसकी अचानक डेथ हो जाए तो उसकी फैमिली को कंपनी मुआवजा देती है इस लाइफ इंश्योरेंस की इंपॉर्टेंट तब बहुत बढ़ जाती है जब घर की मुखिया की मृत्यु हो जाये और फैमिली की फाइनेंसर सिक्योरिटी का ख्याल रखने वाला वही हो। तो ऐसे में उस व्यक्ति के ना रहने पर उसकी फैमिली को आर्थिक सहायता मिलती है। इसलिए लाइफ इंश्योरेंस जरूर करवाना चाहिए ताकी आपके ना होने पर भी आपकी फैमिली फाइनेंशली सिक्योर फील करें।

(2) जनरल इंश्योरेंस
इंश्योरेंस के इस टाइप में घर, व्हीकल, हेल्थ, एनिमल्स इंश्योरेंस यह सभी शामिल होते हैं

(A) होम इंश्योरेंस (Home Insurance)
होम इंश्योरेंस की बात करें तो बहुत से लोग अपने घर का बीमा भी करवाते हैं ऐसा करने से उनका घर सुरक्षित हो जाता है यानी कि फ्यूचर में अगर उनके घर को किसी तरह का नुकसान पहुंचता है तो इसकी भरपाई इंश्योरेंस कंपनी से हो जाती है इस तरह के इंश्योरेंस में आग, भूकंप, बाढ़ जैसी बहुत सी प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान शामिल होते हैं। इसके अलावा हड़ताल, दंगा, चोरी और आतंकवाद जैसी आपदाओं के लिए भी इंश्योरेंस सिक्योरिटी दी जाती है।

(B) स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance)
स्वास्थ्य बीमा की तो आज कल हेल्थ इंश्योरेंस कि प्रोब्लम काफी ज्यादा बढ़ गई है या यह कहे कि लोग काफी ज्यादा जागरूक हो गए हैं। इसीलिए हेल्प पर होने वाला खर्च भी काफी ज्यादा बढ़ चुका है। ऐसे में अगर आप अगर आप हेल्थ इंश्योरेंस लेते हैं तो कोई बीमारी होने की सिचुएशन में इलाज में हुआ खर्चा इंश्योरेंस कंपनी के द्वारा कवर किया जाता है ।
इंश्योरेंस कंपनी के द्वारा ट्रीटमेंट में कितना कवर दिया जाएगा। यह आपके द्वारा ली गई पॉलिसी की टर्म्स पर निर्भर करेगा। यहां यह ध्यान रखना जरूरी है कि हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का फायदा सिर्फ उन्हीं हॉस्पिटल्स में मिलता है जो कि इस पॉलिसी से जुड़े होते हैं। इसके अलावा आजकल ऐसी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसीज भी है जो आपकी पूरी फैमिली को इंश्योरेंस सिक्योरिटी दे सकती है इसलिए ऐसी इंश्योरेंस पॉलिसी को ही खरीदे।


(C) मोटर या कार इंश्योरेंस (Car Insurance)
हमारे देश में गाड़ी का इंश्योरेंस करवाना जरूरी है। और ऐसा नहीं करने पर फाइन लगता है। इस इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत आप की गाड़ी यानी कि चाहे वह कार हो या टू व्हीलर, थ्री व्हीलर उसको होने वाले नुकसान का मुआवजा बीमा कंपनी देती है। अगर आपकी गाड़ी से किसी व्यक्ति को चोट लग गई हो या किसी व्यक्ति की अनजाने में मृत्यु हो गई हो तो इंश्योरेंस कंपनी के द्वारा ऐसे मामलों में थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के रूप में कवर किया जाता है।

(D) फसल बीमा (crop insurance)
ऐसे किसान जो कृषि लोन लेते हैं। उनके लिए फसल बीमा लेना बहुत जरूरी होता है। इस इंश्योरेंस में फसल को किसी भी कारण से होने वाले नुकसान की भरपाई इंश्योरेंस कंपनी के द्वारा की जाती है ।अब आगे बात करते है।

(E) Business Liability Insurance
ये इंश्योरेंस किसी कंपनी के वर्क या उसके किसी प्रोडक्ट से कंजूमर को होने वाले नुकसान की भरपाई करता है। यानी किसी कंपनी के कामकाज या उसके किसी प्रोडक्ट की वजह से अगर किसी ग्राहक को कोई हानि होती है, तो ऐसी सिचुएशन में कंपनी पर लगने वाला जुर्माना और कानूनी कार्यवाही का सारा खर्चा उठाने की जिम्मेदारी इंश्योरेंस कंपनी की होती है। जो कि उस कंपनी का बिज़नेस लाइबिलिटी इंश्योरेंस करती है।

(F) ट्रेवल इंश्योरेंस (Travel Insurance)
आजकल ट्रेवल इंश्योरेंस भी काफी चलन में है और यह इंश्योरेंस यात्रा के दौरान होने वाले नुकसान से बचाव करती है। मतलब की किसी व्यक्ति ने अपना यात्रा बीमा करवा रखा है। वह काम के सिलसिले में या घूमने के उद्देश्य से विदेश जाता है। और वहां उसे चोट लग जाती है या उसके सामान खोने जैसी घटनाएं हो जाती है तो इसका मुआवजा इंश्योरेंस कंपनी उस व्यक्ति को देती है ।
इस पॉलिसी की टाइम लिमिट आप की यात्रा शुरू होने से लेकर के खत्म होने तक की होती है। इसके अलावा देश के अंदर की जाने वाली छोटी बड़ी यात्राओं के लिए भी ट्रैवल इंश्योरेंस उपलब्ध होता है।

आजकल तो आप अगर एप्लीकेशंस यूज करते हैं, कैब बुक करते हैं तो वहां भी आपको इंश्योरेंस का ऑप्शन देता है। केवल 1 या 2 रुपये में। इसी के साथ ही जब आप प्लेन से यात्रा करते हैं तो भी आपको इंश्योरेंस का ऑप्शन दिखाई देता है। यह आपकी चॉइस है कि आप उसे सिलेक्ट करना चाहते हैं या नहीं। लेकिन अब से आपको पता चल गया है कि इंश्योरेंस वास्तव में क्या है? इसके क्या फायदे है। ओर यह लंबे समय तक आप को कैसे फायदा पहुंचा सकता है ।
खासकर उस फ्यूचर में जिसका शायद आपको पता भी नहीं है। तो भगवान ना करे ऐसा किसी के साथ कुछ हो। लेकिन फिर भी अगर आप बहुत जागरूक है, अपने परिवार को लेकर, अपने घर को लेकर, बहुत ज्यादा दिमाग में स्ट्रेस रहता है। तो सबसे बेस्ट है कि आप इंश्योरेंस ले लीजिए। जिस से आप का ये स्ट्रेस खत्म हो जाएगा। कुछ चीजे ऐसी होती है। जो हमारे हाथ में नहीं होती है और अगर आपको लगता है कि अक्सर लोग आपको यह बोलते रहते हैं तो आपके पास जवाब है कि आपको इंश्योरेंस लेना है या नहीं। क्योंकि इस ब्लॉग ने आपको काफी सारी जानकारी दी है ।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *