यदि बेईमानी करोगें तो जीवन भर पछताओगे | Best Motivational Story In Hindi

best motivational Blog
best motivational Blog

यदि बेईमानी करोगें तो जीवन भर पछताओगे

क्या आपने कभी सोचा है जब भी आप किसी शॉप पर सामान लेने के लिए जाते हैं उस वक्त आप एक चीज को लेकर बड़े ही परेशान रहते हैं। 

 

 क्या आप सोच सकते हैं कि वह चीज क्या है थोड़ा सोचिए चलिए मैं बताता हूं जब भी आप किसी शॉप पर किसी सामान को लेने के लिए जाते हैं तो एक बात आप बहुत सोचते हैं और वह यह है कि कहीं शॉप वाला व्यक्ति आपको उल्लू तो नहीं बना रहा है कहीं वह आपसे ओवर प्राइस तो नहीं ले रहा है।  

 

और इसलिए आप बहुत सारी शॉप पर जाते है वहां पर रेट को कंफर्म करते हैं और उसी के बाद किसी चीज को खरीदते हैं इसका मतलब क्या हुआ कि आप व्यक्ति की ईमानदारी को चेक करते हैं कि कौन व्यक्ति कितना ज्यादा ईमानदार है और कौन व्यक्ति आपको कितना ज्यादा प्रॉफिट दे रहा है। 

 

एक बार एक राजा ने अपनी प्रजा की ईमानदारी चेक करना चाहा और क्योंकि उस राज्य के लिए कोई उत्तराधिकारी नहीं था उस राजा ने शादी नहीं की थी और इसलिए उसने प्लान बनाया कि मैं इन्हीं में से एक उत्तराधिकारी को चुनता हूं उसने अपने सारे के सारे राज्य के लोगों को एक जगह पर एकत्रित किया और कहा कि मैं आप में से किसी एक को अपने राज्य का उत्तराधिकारी चुनना चाहता हूं इस लिए में आप सभी को एक-एक  बीज दे रहा हूं और 1 महीने का वक्त दे रहा हूं जो भी व्यक्ति सबसे अच्छा पौधा इस बीज से ऊगा कर लाएगा वो ही हमारे राज्य का उत्तराधिकारी होगा। 

Best Motivational Story In Hindi

अब सभी लोग बहुत ही ज्यादा एक्साइटेड हो गए और हर व्यक्ति की इच्छा थी कि मैं उत्तराधिकारी बनूँगा और इसलिए सभी ने बीज लिए और अपने अपने काम पर लग गए लगभग एक सप्ताह बीत गया लोग एक दूसरे के घर जाकर देखने लगे की किसका पौधा कितना बढ़ा हुआ है। 

 

पूरा का पूरा राज्य बहुत ही ज्यादा एक्साइटेड था अब एक महीना बीत गया और वो समय आया जब सभी को अपने पौधों को राज दरबार में ले जाना था अब उस दिन सभी अपने-अपने पौधे लेकर राजदरबार में पहुंचे किसी का पौधा बहुत बड़ा था तो किसी का पौधा बहुत छोटा था किसी का पौधा बहुत सुंदर दिख रहा था और सभी एक दूसरे के पौधे को देखकर बहुत ज्यादा जलन भी महसूस कर रहे थे। 

 

क्योंकि वह सोच रहे थे कि पता नहीं आज कौन राजा बनने वाला है इतने में वहां पर एक लड़का आया जो खाली गमला लेकर आया सभी लोग ज्यादा हंस रहे थे उसका मजाक उड़ा रहे थे कि देखो यह लड़का खाली गमला लेकर यहां पर पहुंच गया इससे तो कोई पौधा उगा ही नहीं अब वो वक्त आया जब राजा वहां पर पहुंचे और राजा सभी के पौधों को देखकर बहुत ही खुश हुए राजा ने एक-एक करके सभी के पौधे देखें और पूछा इस पौधे को आपने कैसे उगाया तो किसी ने कहा मैंने इसमें बहुत मेहनत की मैंने इसमें पानी डाला खाद्य डाला इसकी दिन-रात सेवा की और इसलिए इस पौधे को इतना सुंदर और इतना बड़ा कर पाया अब राजा सभी के पौधे देखते-देखते उस नौजवान के पास पहुंचे जिसने खाली गमला लेकर आया था। 

 

अब उसे पूछा कि तुम खाली क्यों लेकर आए हो तुम से कोई पौधा नहीं होगा तो उस लड़के ने जवाब दिया महाराज मैंने बहुत सेवा की बीज को पानी दिया अपना पूरा समय दिया मेहनत की लेकिन इस बीज से कोई भी पौधा उगा ही नहीं सभी लोग एक बार फिर से उस लड़की पर जोर जोर से हंसने लगे देखिये कैसा लड़का है।

Best Motivational Story In Hindi

निकम्मा इससे एक पौधा भी नहीं ऊगा यह क्या राजा बनेगा राजा भी मुस्कुराये लेकिन राजा ने उस लड़के का हाथ पकड़ लिया और उसे राज दरबार की और आगे ले जाने लगे सभी लोग उसे देखकर बहुत ज्यादा आश्चर्य चकित हो गए राजा उस लड़के को पकड़ कर गद्दी की और क्यों ले जा रहे हैं। 

 

थोड़ी देर के बाद राजा ने उस लड़के को गद्दी पर बैठा दिया और कहा आज से यही तुम्हारा राजा है सभी लोगों ने कारण पूछा कि आपने तो कहा था कि जो भी सबसे सुंदर पौधा उगायेगा वो ही राजा कहलायेगा। 

 

राजा बोले इसने पौधे उगाने की पूरी कोशिश की लेकिन बीज खराब था तो कोई भी पौधा उग ही नहीं सकता था और इसने ईमानदारी के साथ जो मेहनत की वो ही सामने लेकर आया।

Best Motivational Story In Hindi

लेकिन आप सभी ने झूठा और दूसरा बीज बोया ताकि आप एक अच्छा और बड़ा पौधा मेरे सामने लेकर आ सके ताकि आप खुद एक राजा बन पाए और आप इसी वजे से ईमानदार नहीं है। 

 

ईमानदारी एक बोहत ही जरुरी सब्द है आपकी लाइफ के लिए कही बार आप दुसरो के पार्टी ईमानदार होते ही नहीं है लेकिन उससे जरुरी है कही बार आप खुद के प्रति भी ईमानदार नहीं होते है याद रखना जब तक आप खुद के प्रति ईमानदार नहीं  होंगे आप दुसरो के प्रति भी ईमानदार नहीं हो सकते और जीवन में कभी भी सफल नहीं हो सकते।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *